Ultimate magazine theme for WordPress.

नेपाल में मेडिकल कॉलेज के छात्रों की डिग्री रोके जाने के विरोध में सीमा पर धरना प्रदर्शन

देवताल गाउपालिका सामाजिक शंदेश
0 700
cin bigyapan
प्रसौनी गापा सामाजिक संदेश ०७८

जोगबनी, मेराज सिद्धकी

फेटा गापा सामाजिक संदेश ०७८

नेपाल में मेडिकल कॉलेज के छात्रों की डिग्री रोके जाने के विरोध में इंडो नेपाल सीमा पर भाजयुमो कार्यकर्ता व डिग्री से वंचित छात्रों ने धरना प्रदर्शन करते हुए कई नारे जैसे चाइना की दलाली बंद करो, भारतीय छात्रों के साथ अन्याय बंद करो , काठमांडू विश्व0 वि0 हाय हाय आदि गगनभेदी नारे लगाते हुए सोमवार को भाजपा युवा मोर्चा द्वारा चीन समर्थित भारत विरोधी समूहों के दबाब में काठमांडू विश्व विद्यालय नेपाल में मेडिकल शिक्षा प्राप्त कर रहे भारतीय छात्रों के साथ हो रहे भेद भाव और प्रमाण पत्र रोके जाने के विरुद्ध छात्रों के समर्थन में अपने पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत प्रदेशमंत्री प्रवीण कुमार की अध्यक्षता में भारत नेपाल सीमा प्रवेश द्वार पर जमकर प्रदर्शन और नारे बाजी करते हुए सांकेतिक धरना दिया । इससे पूर्व पर धरना का शुरुआत महात्मा गांधी के प्रतिमा पर माल्यर्पण कर किया गया। इस मौके पर धरना को संबोधित करते हुए नेपाल मेडिकल स्टूडेंट एसोशिएसन के अध्यक्ष महावीर गुज्जर नेहा सेन ने जहाँ छात्रों के साथ हो रहे कठिनाइयों को विस्तार से बताया और भारत सरकार से न्याय की गुहार लगाई है ।

विश्रामपुर गापा सामाजिक संदेश ०७८
cin bigyapan

धरना के दौरान फारबिसगंज एसडीओ को भाजयुमो कार्यकर्ताओ ने सौंपी मांग पत्र।

धरना के दौरान जोगबनी पहुचे अनुमंड पदाधिकारी फारबिसगंज रवी प्रकाश के माध्यम से प्रधानमंत्री के नाम एक मांग पत्र सौपते हुए भाजयुमो मोर्चा के प्रदेश मंत्री प्रवीण कुमार जिला उपाध्यक्ष राजन तिवारी ने कहा कि नेपाल से रोटी बेटी के सम्बन्ध तथा भारत नेपाल मैत्री के आधार पर जिस काठमांडू विश्व वि0 को भारत सरकार सहयोग करती है उसी विश्व वि0 के कुलपति ,डीन, और अन्य अधिकारियों के द्वारा भारत की राष्ट्र भाषा हिंदी बोलने से न सिर्फ रोकती है बल्कि उनको अन्य छात्रों के तरह सुविधा नही देकर उसे मानसिक रूप से प्रताड़ित करती है। उन्होंने पी0एम0 से मांग किया है कि यथा शीघ्र भारतीय दूतावास से वस्तु स्तिथिकी की जानकारी स्वयं प्राप्तकर एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधि मंडल भेजकर नेपाल सरकार से वार्ता उपरांत छात्रों को न्याय दिलाने हेतु यथा शीघ्र कदम उठाए जाएं। श्री कुमार व श्री तिवारी ने बताया कि मांग पत्र की प्रतिलिपि विदेश मंत्री व शिक्षा मंत्री भारत सरकार के साथ नेपाल स्तित भारतीय दूतावास को प्रेषित किया है तथा मांग किया गया है कि काठमांडू विश्व वि0 अंतर्गत आने वाले दस मेडिकल कॉलेज के सैकड़ों भारतीय छात्रों के भविष्य पर हो रहे कुठाराघात पर संज्ञान लेते हुए नेपाल में छात्रों के समस्या समाधान हेतु समुचित कार्रवाई की जाय। इस मौके पर भाजयुमो नगर महामंत्री राकेश शर्मा, मंत्री दिवाकर भगत, अमित कुमार, विनोद कु0 मनोज कु0,सहित नेपाल मेडिकल कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्र भजन लाल बिश्नोई, भूपेंद्र पटोलिया, मुस्कान गर्ग, इति शर्मा, दीपक शर्मा, उत्पलकु0रतन पोद्दार, लोकेश शर्मा, कुणाल यादव,जयेश यादब, राहुल कुमार, अंकित राज, सूर्यप्रकाश, राहुल कुमार, उमर्त्य कुमार, विकास साह, प्रीति राज प्रीतम हर्षजीत सिंह, सहित बड़ी संख्या में भाजयुमो कार्यकर्ता मौजूद थे।

इन कॉलेजों के हैं छात्र :- नेपाल के काठमाण्डु यूनिवर्सिटी से संबंध प्राप्त ,स्कूल ऑफ मेडिकल साइन्स काठमांडू, मणिपाल मेडिकल साइन्स पोखरा,कॉलेज ऑफ मेडिकल साइन्स भरतपुर चितवन,काठमाण्डू मेडिकल कॉलेज ,काठमाण्डू, नेपाल मेडिकल कालेज ,काठमांडू, नेपालगंज मेडिकल कॉलेज, नेपालगंज, लुम्बिनी मेडिकल कॉलेज ,पाल्पा, नोबेल मेडिकल कॉलेज बिराटनगर, बिराट मेडिकल कॉलेज बिराटनगर, देवदाह मेडिकल कॉलेज रूपेंदेही शामिल होने की बात बताई जा रही है ।

cin bigyapan