Ultimate magazine theme for WordPress.

नागरिक संशोधन एक्ट (एनआरसी) के खिलाफ विशाल पैदल मार्च व सभा का आयोजन

नागरिक संशोधन एक्ट (एनआरसी) के खिलाफ विशाल पैदल मार्च व सभा का आयोजन

देवताल गाउपालिका सामाजिक शंदेश
0 651
पचरौता कोभिड नया -078
प्रसौनी गापा सामाजिक संदेश ०७८
सिम्रौनागढ़ नया कोभिड -078

फॉरबिसगंज(संवाददाता)
नागरिक संशोधन एक्ट और एनआरसी के खिलाफ एक विशाल पैदल मार्च व सभा का आयोजन फारबिसगंज में नागरिक अधिकार मंच के बैनर तले संयोजक शाहजहां शाद के संचालन में संपन्न हुआ जिसमें 50,000 से अधिक की संख्या में शहर एवं ग्रामीण क्षेत्रों के युवा बच्चे एवं वृद्ध सम्मिलित होकर केंद्र सरकार के काला कानून के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद की और सभी ने एक सुर में कहा यह लोकतांत्रिक और धर्मनिरपेक्ष देश है इस देश में किसी की तानाशाही नहीं चलेगी हम सभी अंधी बहरी और गूंगी केंद्र सरकार के नीतियों का विरोध करते हैं यह सरकार देश को विकास, रोजगार, प्रगति को छोड़कर धर्म संप्रदाय में बांटना चाहती हैं जो हम भारतवासी कभी भी होने नहीं देंगे गांधी और अंबेडकर के इस देश में धर्म, संप्रदाय, अमीर , गरीब अल्पसंख्यक, बहुसंख्यक के आधार पर किसी को भी भेदभाव करने का कोई हक नहीं है वही सभा में वक्ताओं ने कहा कि आज इस गांधी मैदान से केंद्र सरकार के काला कानून के खिलाफ मुहिम की शुरुआत है जिसके यह लाखों लोग साक्षी हैं अगर सरकार देशहित में नागरिक संशोधन एक्ट और एनआरसी वापस नहीं लेती है तो हम आखरी दम तक देश के सामाजिक राजनीतिक और सांस्कृतिक मिठास को बनाए रखने के लिए लड़ाई लड़ते रहेंगे कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ एस आर झा एवं संचालन शाहजहां शाद ने किया वक्ताओं में मुख्य रूप से पूर्व सांसद पप्पू यादव, पूर्व सांसद सरफ़राज़ आलम, विधायक अनिल यादव, विधायक आबेदुर्रह्मान, आशीष रंजन, अनिल सिन्हा, कृष्णा मिश्रा,विश्वमोहन यादव, के एन विस्वास, असलम बेग, साहेब खान, जितेंद्र यादव, बबलू अनवर, रसीद अनवर, गेनालाल महतो, मनीष यादव, रणवीर पासवान, नरेंद्र राणा, मौलाना खालिद सैफुल्लाह, एकराम अंसारी, मुफ़्ती अंसार क़ासमी, मुफ़्ती याक़ूब, मौलाना जब्बार, प्रो० साबिर इदरीस, हाफिज नौशाद, राजेश कुमार बहरदार, मौलाना नजरुल हसन मौलाना फ़ारूक़, वाहिद अंसारी, ज़ाहिद अनवर, रोहित रौशन, बेलाल अली,आफताब आलम, राशिद जुनैद इकराम अंसारी, मुमताज सलाम, सलाम गुड्डू अली, सादिक़ आलम, नज़रुल हसन, सादिक़ सबा, मुफ़्ती रशीद, विद्यानंद पासवान, कमरुद्दीन अंसारी, ग़ालिब आज़ाद, इरफान अंसारी, गयास नोमानी, सदरे आलम, शाद अहमद नासिर अंसारी अल्ताफ हुसैन उमर हुसैन सहित दर्जनों लोगों ने अपनी बात रखी

फेटा गापा सामाजिक संदेश ०७८
Suvarn Holi Sandesh